850 भारतीय क़ैदियों को रिहा करेगा सऊदी अरब | Publick View

850 भारतीय क़ैदियों को रिहा करेगा सऊदी अरब

जनवरी 2019 तक हत्या, अपहरण, चोरी और ड्रग तस्करी जैसे गंभीर अपराधों की वजह से 2,224 भारतीय क़ैदी सऊदी अरब की जेलों में क़ैद हैं.

Narendra Modi with Mohammad Bin Salman

मोहम्मद बिन सलमान के साथ एयरपोर्ट पर नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली: भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा है की सऊदी अरब 850 भारतीय क़ैदियों को रिहा करेगा. यह फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की मुलाक़ात के बाद सऊदी अरब ने लिया है. भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्राउन प्रिंस से क़ैदियों को आज़ाद करने का आग्रह किया था. दुनिया के किसी भी देश की तुलना में सऊदी अरब में सबसे ज़्यादा भारतीय क़ैदी हैं. जनवरी 2019 तक हत्या, अपहरण, चोरी और ड्रग तस्करी जैसे गंभीर अपराधों की वजह से 2,224 भारतीय क़ैदी सऊदी अरब की जेलों में क़ैद हैं.

एक अनुमान के अनुसार 27 लाख भारतीय सऊदी अरब में काम करते हैं. इसमें कम तनख्वा पर काम करने वाले मज़दूर वर्ग से लेकर मैनेजमेंट, कंस्ट्रक्शन और घर के अंदर कामकाज करने वाले हैं. भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गुज़ारिश पर सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने 850 भारतीय क़ैदियों को रिहा करने का फैसला किया है.”

पुलवामा हमला: इमरान खान ने कहा भारत सबूत दे तो हम कार्यवाही करेंगे

सोमवार को सऊदी अरब ने 2,100 पाकिस्तानी क़ैदियों को रिहा किया था. क्राउन प्रिंस भारत आने से पहले पाकिस्तान गए थे. वहां उन्होंने 20 मिलियन डॉलर के समझौते पर हस्ताक्षर किये थे. मोहम्मद बिन सलमान ने कहा की भारत में 100 मिलियन डॉलर निवेश की संभावना है. इसके बाद क्राउन प्रिंस चीन के दौरे पर भी जायेंगे. पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के बाद वैश्विक स्तर पर सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की आलोचना हो रही थी. आधिकारिक तौर पर सऊदी अरब ने जमाल खशोगी हत्याकांड में शामिल होने से हमेशा इंकार किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *