एमपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षा शुरू, सोशल डिस्टेसिंग का किया जा रहा पालन

मध्यप्रदेश में 12वीं की परीक्षा शुरू हो गई है. इस परीक्षा में करीब साढ़े 8 लाख परीक्षार्थी शामिल हो रहे है. ये परीक्षा 9 जून से 16 जून 2020 तक जारी रहेंगे. कोरोना महामारी को देखते हुए परीक्षाओं में किसी को संक्रमण ना हो इसके लिए सुरक्षा के इंतजाम किए गए है और परीक्षा शैली में बदलाव किए गए है. परीक्षा केंद्र मे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा है. परीक्षार्थियों के बीच एक डेढ़ मीटर की दूरी रखी जा रही है. परीक्षा केंद्र को पहले ही सैनेटाइज किया जा चुका है. जिससे परीक्षार्थियों के किसी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े. पूरे प्रदेश में लगभग 3682 परीक्षा के केंद्र बनाए गए है. परीक्षाएं दो शिफ्ट में सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक और दोपहर 2 बजे से शाम बजे होंगी.

परीक्षा के लिए बने नियमों का करना होगा पालन

1.परीक्षा केंद्र में परीक्षार्थियों को पूरे वक्त मास्क लगाकर रखना अनिवार्य होगा.
2.परीक्षा केंद्र में एंट्री से पहले थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी.
3.जिन परीक्षार्थीयों को सर्दी, खांसी या बुखार होगा उनके लिए अलग आइसोलेशन रूम दिया जाएगा.
4.सोशल डिस्टेसिंगके साथ परीक्षा होगी.
5.अगर किसी स्टूडेंट के घर में कोरोना संक्रमित है तो वो परीक्षा नहीं दे पाएगा
6.परिवार का कोई सदस्य यदिं क्वॉरंनटाइन है तो वो स्टूडेंट भी परीक्षा नहीं दे पाएगा.
7.परीक्षा केंद्र में परीक्षा शुरू होने से 1 घंटे पहले पहुंचना अनिवार्य होगा.

एमपी बोर्ड ने ये फैसला लिया है कि जिन परीक्षार्थियों के घर में कोई कोरोना संक्रमित है या क्वॉरंटाइन है उनकी परीक्षा अलग से ली जाएगी. साथ ही जो परीक्षार्थी मुख्य जिले से बाहर है और उसने परीक्षा केंद्र बदलवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन नहीं किया है, तो बोर्ड ने ऐसे परीक्षार्थी के लिखित आवेदन पर डीईओ मानकर परीक्षा में शामिल करने का निर्देश दिया है. ये चीजें इसलिए की गई है ताकि कोई भी परीक्षा देने से वंचित ना रहें.

आपको बता दें कि कोरोना महामारी के कारण एमपी बोर्ड 12वीं के कुछ पेपर मार्च में हो गए थे और कुछ विषयों के पेपर लॉकडाउन होने के कारण नहीं हो पाए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *