श्रीनगर: पुलवामा में हुए आतंकी हमले कि पूरी रिपोर्ट

श्रीनगर: जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को हुए अचानक आंतकी हमले से पूरा हिन्दुस्तान सिहर गया. इस हमले कि वजह से पूरे देश के लिए ये दिन एक काले दिन के रुप मे तबदील हो गया.

जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में अवन्तीपुरा के गोरीपुरा इलाके में सीआरपीएफ के काफिले पर अबतक का सबसे बड़ा हमला हुआ है. इस हमले में सीआरपीएफ के 41 जवान शहीद हुए और 45 जवान घायल हुए है. दिल्ली में गृह मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार, हमले के वक़्त काफिले में 70 बसें शामिल थीं. इनमे 2500 जवान मौजूद थे.

इस हमले के लिए 350 किलो IED (Improvised Explosive Device) का इस्तेमाल किया गया. हमले कि पूरी जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली. इसके साथ ही इस हमले को आत्मघाती हमला बताया है. सीआरपीएफ के जवानों को ले जा रही बस को मुख्य रुप से निशान बनाया गया. बता दें कि यह हमला श्रीनगर से सिर्फ 20 किलोमीटर पर हुआ.

काफिले में सीआरपीएफ कि 70 गाड़ियां थी शामिल

सीआरपीएफ के जिस काफिले पर हमला हुआ, उसमें 70 गाड़ियां शामिल थी. इस गाड़ियों में 76वीं बटालियन के करीब 2500 जवान शामिल थे. यह काफिला जम्मू से श्रीनगर की ओर जा रही था. ये गाड़ियां जब वहां से निकल ही थी तभी अचानक जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ने स्कॉर्पियो से सीआरपीएफ कि एक बस में टक्कर मार दी. इस कार में 350 किलो विस्फोटक रखा था.

सर्च ऑपरेशन जारी

हमले के बाद सेना ने फिलहाल जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर ट्रैफिक बंद कर अवन्तीपुरा और आसपास के इलाकों में बड़ा सर्च ऑपरेशन कर रही है. देखने के वाली बात यह है कि श्रीनगर से महज 20 किलोमीटर दूरी पर हुए इतने बड़े हमले से सुरक्षा एंजेसियों की लापरवाही जाहिर होती है.

पुलवामा का ही रहने वाला था आतंकी

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक पुलिस ने आतंकी कि पहचान पुलवामा के काकापोरा के ही रहने वाले आदिल अहमद के रुप मे की है. साथ ही पीटीआई के मुताबिक अहमद ने 2018 में जैश-ए-मोहम्मद मे शामिल हुआ था. पुलवामा जिले में हुए इस हमले को अंजाम देने वाला आतंकी अहमद ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी. धमाका इतना ज्यादा जबरदस्त था कि बस पूरी तरह से बरबाद हो गया.

Pulwama-Attack
पुलवामा का ही रहने वाला था आतंकी
प्रधानमंत्री मोदी ने कि हमले की निंदा

पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए हमले कि निंदा करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “इस तरह सीआरपीएफ कर्मियों पर हमला करना कायरता है. मैं इस नृशंस हमले कि कड़ी निंदा करता हुं. हमारे बहादुर सुरक्षाकर्मियों का बलिदान व्यर्थ नही जाएगा. पूरा देश बहादुर शहीदों के परिवार के साथ इस मुश्किल में कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है. घायलों के जल्द ठीक होने कि कामना करता हुं.”

सीआरपीएफ पर हुए इस हमले से परेशान हुं- राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हमले कि निंदा करते हुए कहा कि, “मैं सीआरपीएफ के काफिले पर हुए कायराना हमले से परेशान हुं. शहीदों के परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं. मैं घायलों के जल्दी टीक होने की कामना करता हुं.”

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अबदुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने जताया दुख

जहां एक तरफ जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेस के नेता उमर अबदुल्ला ने ट्वीट कर दुख जताया. वही दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर की ही पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट में लिखा, “कोई भी शब्द इस भीषण आतंकी हमले की निंदा करने के लिए पर्याप्त नही है.”

रक्षामंत्री ने इस मामले में अबतक सोशल मीडिया पर नही की कोई टिप्पणी

देखने वाली बात यह है कि रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण जो अभी स्वीडन दौरे पर है. उन्होंने इस पूरे मामले में अपने सोशल मीडिया अकांउट पर कोई प्रतिक्रिया नही दी है.

Nirmala Sitaraman
रक्षामंत्री ने इस मामले में अबतक सोशल मीडिया पर नही की कोई टिप्पणी

पब्लिक व्यू डेस्क

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *